इस रहस्यमयी सुरंग में लगेगा दुनिया का सबसे बड़ा चुंबक….

तमिलनाडु की नीलगिरी पहाड़ियों के नीचे बन रही इस सुरंग में सैकड़ों साइंटिस्ट दिन-रात काम करेंगे,इसमें लगेगा दुनिया का सबसे बड़ा चुंबक.

तमिलनाडु में नीलगिरी की पहाड़ियों को नीचे से खोदकर डेढ़ किलोमीटर की एक सुरंग बनाई जा रही है. इलाके के लोग इसे रहस्यमयी सुरंग मान रहे हैं. वो इससे डरे हुए हैं, उन्हें लगता है कि जब इस सुरंग में वैज्ञानिक अपने प्रयोग शुरू करेंगे तो इससे किलर पार्टिकल निकलेंगे, जो उनकी जान भी ले सकते हैं. इसे बंद करने के लिए वो अदालत में जा चुके हैं. सरकार से गुहार लगा चुके हैं. आखिर क्या है ये सुरंग. क्या होगा इसमें.

ये सुरंग तमिलनाडु के थेनी जिले में है. जब ये काम करना शुरू करेगी तो इसमें देश के बेहतरीन वैज्ञानिकों का जमावड़ा लगेगा. ये सुरंग बिल्कुल उसी तरह की है, जिस तरह की साइंटिफिक सुरंग स्विट्जरलैंड में बनी है, जहां सारी दुनिया के साइंटिस्ट गॉड ऑफ पार्टिकल पर काम कर रहे हैं. लेकिन भारत में बन रही ये वैज्ञानिक सुरंग कुछ अलग है. ये जो पार्टिकल्स बनाने जा रही है, उन्हें करामाती पार्टिकल्स या न्यूट्रीनो भी कहा जाता है. इन न्यूट्रीनो का दुनिया में खासा महत्व है.

इसमें लगेगा दुनिया का सबसे बड़ा चुंबक 

आप ये कह सकते हैं कि जब इस सुरंग में काम शुरू हो जाएगा तो ये दुनिया में अपनी तरह की एकदम खास साइंटिफिक लैब होगी. इसमें दुनिया का सबसे बड़ा चुंबक लगाया जाएगा.

उस चुंबक से चार गुना ज्यादा बड़ा जो जिनेवा की सर्न लैब में है. गॉड ऑफ पार्टिकल्स बनाने वाली सर्न लैब में लगे हुए चुंबक का वजन 12.500 टन है. तो आप समझ सकते हैं कि ये प्रोजेक्ट कितना बड़ा है.

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *