जरूरत पड़ी तो कांग्रेस को समर्थन…अखिलेश बोले- 23 मई को देश को मिलेगा नया पीएम,

लोकसभा चुनाव 2019: अधिकांश एग्जिट पोल्स में एनडीए को बढ़त से विपक्षी एकता को झटका। लेकिन अभी भी एकजुट होने की कवायद जारी है।

लोकसभा चुनाव 2019 के मतदान की प्रक्रिया पूरी हो चुकी है। अधिकांश एग्जिट पोल्स ने नरेंद्र मोदी की अगुवाई में एनडीए को पूर्ण बहुमत का अनुमान लगाया है। इससे विपक्षी एकता को बड़ा झटका लगा है लेकिन अभी भी एकजुट होने की कवायद जारी है। रविवार को मीडिया से बात करते हुए सपा मुखिया अखिलेश ने कहा कि 23 मई को देश को नया पीएम मिलेगा। उन्होंने कहा कि अगर जरूरत पड़ी तो सपा कांग्रेस को समर्थन दे सकती है। उन्होंने विपक्षी एकजुटता के लिए चंद्रबाबू नायडू के प्रयासों को भी रेखांकित किया।

सोनिया से नहीं मिलेंगी माया

रविवार शाम तक खबरें थी कि सोमवार को बीएसपी प्रमुख मायावती  यूपीए अध्यक्ष सोनिया गांधी से मुलाकात करेंगी। लेकिन बीएसपी महासचिव सतीश मिश्र ने अटकलों पर विराम लगा दिया है। उन्होंने कहा कि मायावती  जी का आज दिल्ली जाकर मीटिंग करने का कोई प्रोग्राम तय नहीं है। वह लखनऊ में ही रहेंगी।

नायडू की कवायद जारी

आखिरी चरण के मतदान से पहले ही आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू समान विचारधारा के नेताओं के साथ मुलाकात कर रहे हैं। उन्होंने यूपी में अखिलेश और मायावती से मुलाकात की थी। इसके बाद दिल्ली में राहुल गांधी से भी मिले। नायडू की कवायद की वजह से मायावती और सोनिया गांधी के बीच बैठक की खबरें सामने आई थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *