महानदी में डूबने से स्कूली छात्रों के मौत मामले में प्रबंधन ने परिजनों को 16 लाख का चेक सौंपा.

रायपुर. महानदी में डूबने से स्कूली छात्रों के मौत मामले में प्रबंधन ने परिजनों को 16 लाख का चेक सौंपा. परिजनों को विधायक विकास उपाध्याय के प्रयास से चेक प्राप्त हुआ है. विकास उपाध्याय के बंगले में स्कूल प्रबंधक ने परिजनों को 16 लाख का चेक दिया.

गौरतलब है कि रविवार सुबह भारत माता स्कूल प्रबंधन और परिजनों की बैठक हुई. जिसमें तय हुआ कि 16-16 लाख का मुआवजा परिजनों को दिया जाएगा. यह बैठक प्रशासनिक अफसरों की मौजूदगी में हुई. परिजनों और प्रशासन का दबाव बढ़ने पर प्रबंधन मुआवजा देने पर सहमत हुए. प्रशासन ने चेतावनी दी कि अगर भविष्य में इस तरह की लापरवाही हुई तो स्कूल की मान्यता रद्द कर दी जाएगी.

बता दें कि शनिवार को भारत माता हायर सेकंडरी स्कूल रायपुर के 170 बच्चे पिकनिक मनाने सिरपुर गए थे. गंधेश्वर महादेव दर्शन के पहले बच्चे महानदी में नहाने चले गए, इस दौरान दो बच्चे गहराई में चले गए. बच्चों को तैरना नहीं आता इसलिए वो महानदी के तेज बहाव में डूब गए. और जब स्कूल स्टॉफ को इसकी जानकरी मिली, तब तक दोनों बच्चे डूब गए थे.

शिक्षकों की सहायता से बच्चों को बाहर निकाला गया. बच्चों को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र तुमगांव लाया गया, जहां डाक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया. मृतक अमन शुक्ला पिता प्रदीप शुक्ला (14 वर्ष) कक्षा 9वीं और खुशदीप पिता हरदीप संधू हीरापुर रायपुर का निवासी था.

रात को दोनों का शव लेकर एंबुलेंस जब रायपुर पहुंची तो आक्रोशित लोगों ने चक्काजाम कर दिया. लोगों ने स्कूल प्रबंधन के खिलाफ जमकर नारेबाजी की. स्थानीय रहवासियों समेत छात्रों के परिजनों ने थाना के सामने शव वाहन को रोक दिया था. स्कूल प्रबंधन के खिलाफ जमकर नारेबाजी की थी.

1 thought on “महानदी में डूबने से स्कूली छात्रों के मौत मामले में प्रबंधन ने परिजनों को 16 लाख का चेक सौंपा.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *