Raipur : अब सड़क पर रांग साइड चले तो हो जाएगा टायर पंक्चर

रायपुर।की सड़कों पर रांग साइड गाड़ी चलाना अब वाहन चालकों को भारी पड़ सकता है। रांग साइड गाड़ी चलाने पर टायर पंक्चर हो जाएगा, फट भी सकता है। दरअसल लापरवाही से गाड़ी ड्राइव करने वालों को सबक सिखाने के लिए रायपुर ट्रैफिक पुलिस ने सड़क पर टायर किलर्स ब्रेकर का जाल बिछाने का प्लान बनाया है।

ट्रैफिक पुलिस ने फिलहाल दो टायर किलर्स ब्रेकर का ऑर्डर दिया है। इसके यहां आते ही सबसे पहले तेलीबांध थाना चौक और अवंति विहार चौक पर लगाया जाएगा।

एडिशनल एसपी ट्रैफिक एमआर मंडावी ने बताया कि शहर की सड़कों पर रांग साइड पर वाहनों की आवाजाही से लोगों को काफी दिक्कतें होती हैं। देश भर के कई बड़े शहरों में रांग साइड वाहन चलाने वालों को सबक सिखाने के लिए टायर किलर्स ब्रेकर लगाए गए हैं। इसी क्रम में रायपुर की सड़कों पर भी लगाने की तैयारी है। यातायात नियमों का उल्लंघन करने वाले लोगों को रोकने के लिए इसे लगाया जा रहा है।

पहला टायर किलर ब्रेकर जीई रोड पर अवंति विहार की तरफ जाने वाले चौक और तेलीबांध थाने के पास लगाया जाएगा। दोनों स्थानों का चिन्हांकन कर लिया गया है। यह प्रयोग सफल होने पर शहर के बचे हुए अन्य स्थानों पर भी इन्हें इंस्टॉल किया जाएगा। इससे जो लोग गलत साइड ड्राइविंग करेंगे उनकी गाड़ी का टायर पंक्चर होने के साथ फट भी सकता है। एएसपी का कहना है कि वाहन चालक अपनी लेन में ही गाड़ी चलाएं, क्योंकि रांग साइड चलेंगे तो आपकी गाड़ी ज्यादा चल नहीं पाएगी। टायर किलर्स ब्रेकर गलत लेन में चल रही गाड़ी का टायर पंक्चर कर देगा।

महानगरों और बड़े शहरों में बेहतर रिजल्ट

देश के सभी महानगरों के अलावा बड़े शहरों में टायर किलर्स ब्रेकर लगाए गए हैं। इसके बेहतर रिजल्ट सामने आए हैं। रांग साइड चलने वाले वाहन चालकों में लगातार कमी आई है। दिल्ली, कोलकाता, मुंबई, पुणे, हैदराबाद, देहरादून के साथ कई शहरों में यह लगाया गया है। एक टायर किलर्स ब्रेकर की कीमत दो से तीन लाख रुपये होती है।

क्या है टायर किलर?

टायर किलर स्पीड ब्रेकर जैसा होता है। यानी जो गाड़ी सही डायरेक्शन में इसे क्रॉस करेगा उसके टायर पूरी तरह सुरक्षित रहेंगे, क्योंकि कांटेदार स्प्रिंग झुके रहते हैं, लेकिन यदि गाड़ी यदि गलत साइड से इन्हें क्रॉस करती है तब उठे हुए कांटेदार स्प्रिंग से टायर पंक्चर या खराब हो सकता है। इस ब्रेकर में तेज धार वाले कांटेदार स्प्रिंग इस तरह फिट रहते हैं कि रांग साइड से आने वाली गाड़ी का टायर इसमें फंस भी जाता है।

1 thought on “Raipur : अब सड़क पर रांग साइड चले तो हो जाएगा टायर पंक्चर

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *