जेएनयू हिंसाः सुचेता और प्रिय रंजन ने लिखित में दर्ज कराए बयान

नई दिल्ली। जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय हिंसा मामले में दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने दो और छात्रों के बयान दर्ज किए ।  5 जनवरी की हिंसा की घटना को लेकर क्राइम ब्रांच लगातार छात्रों से पूछताछ कर रही है। इसी मामले में छात्र सुचे्ता और प्रिय रंजन अपना बयान दर्ज कराने के लिए पहुंचीं। सुचेता के मुताबिक क्राइम ब्रांच ने उनसे लिखित में बयान लिया है साथ ही फोटो में कुछ और लोगों को पहचाने को भी कहा गया है।
सूत्रों के मुताबिक एफआइआर दर्ज कराने के मामले में जामिया की वाईस चांसलर, वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों के संपर्क में हैं। खबर के मुताबिक इस मामले में बुधवार को पुलिस से उनकी मुलाकात भी हुई है।
बता दें जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय में हुई हिंसा के मामले में दिल्ली हाईकोर्ट में सुनवाई के दौरान अदालत को दिल्ली पुलिस ने मामले से जुड़े 2 वाट्सऐप ग्रुप के 37 सदस्यों की पहचान किए जाने की जानकारी दी। दिल्ली पुलिस ने कोर्ट को बताया है कि उसने जेएनयू हिंसा मामले में यूनिटी ऑफ लेफ्ट और फ्रेंड्स ऑफ आरएसएस वाट्सएप ग्रुप के सदस्यों की पहचान की गयी है। मामले से जुड़े लोगों से क्राइम ब्रांच की टीम पूछताछ कर रही है। वहीं कोर्ट ने पुलिस को आदेश दिया है कि वह इन दोनों वाट्सएप ग्रुट से जुड़े लोगों का फोन जब्त कर ले।

One Reply to “जेएनयू हिंसाः सुचेता और प्रिय रंजन ने लिखित में दर्ज कराए बयान”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *