जेएसपीएल रायगढ़ वासियों की स्वास्थ्य सेवा के लिए प्रतिबध्दः नवीन जिन्दल

रायगढ़ के फोर्टिस : मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने किया शिलान्यास एवं भूमि पूजन
जेएसपीएल रायगढ़ वासियों की स्वास्थ्य सेवा के लिए प्रतिबध्दः नवीन जिन्दल
ओपी जिन्दल अस्पताल का विस्तार
85 और बेड जोड़े जाएंगे – कोविड19 रोकथाम के लिए मुख्यमंत्री राहत कोष में 2 करोड़ का योगदान विश्वस्तरीय स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध कराने के लिए जेएसपीएल फाउंडेशन प्रयासरतः शालू जिन्दल

रायपुर, 29 जून 2020 – छत्तीसगढ़ की औद्योगिक राजधानी रायगढ़ के फोर्टिस ओपी जिन्दल अस्पताल के विस्तार का आगाज हो गया। इसमें अतिरिक्त 85 बेड की व्यवस्था के साथ-साथ अनेक अन्य सुविधाएं दी जाएंगी। अस्पताल की फेज-2 निर्माण योजना के तहत मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने आज जेएसपीएल के चेयरमैन श्री नवीन जिन्दल और जेएसपीएल फाउंडेशन की चेयरपर्सन श्रीमती शालू जिन्दल की गरिमामय उपस्थिति में शिलान्यास एवं भूमि पूजन कर इस पवित्र कार्य की शुरुआत की। इस अवसर पर श्री नवीन जिन्दल ने कोविड19 महामारी की रोकथाम के वास्ते मुख्यमंत्री राहत कोष के लिए 2 करोड़ रुपये का चेक श्री भूपेश बघेल को भेंट किया। वर्षों से रायगढ़ की सेवा में समर्पित फोर्टिस ओपी जिन्दल अस्पताल अब स्वास्थ्य सेवा के क्षेत्र में नए आयाम जोड़ने जा रहा है।

फोर्टिस ओपी जिन्दल अस्पताल एवं शोध केंद्र अपने दूसरे चरण में 25 करोड़ की लागत से 50 हजार वर्गफुट क्षेत्र में भवन बनाएगा और अनेक सुविधाएं प्रदान करेगा। इनमें 85 अतिरिक्त बेड होंगे और आईसीएमआर की गाइडलाइंस के अनुसार कोविड-19 आइसोलेशन वार्ड एवं आईसीयू की सुविधा होगी। इसके अलावा न्यूरो-आईसीयू, डायलिसिस, रेडियोलॉजी, एंडोस्कोपी, गैस्ट्रोएंट्रोलॉजी, यूरोलॉजी, नेफ्रोलॉजी, हृदय रोग सर्जरी जैसी सुविधाएं विशेषज्ञ चिकित्सकों की टीम के साथ उपलब्ध कराई जाएंगी।

मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने शिलान्यास के बाद कहा कि यह अस्पताल एक उपलब्धि है। कोविड19 समेत अनेक गंभीर बीमारियों के इलाज के लिए लोगों को अब रायपुर, बिलासपुर व किसी अन्य शहर में नहीं जाना पड़ेगा। उन्होंने रायगढ़ और आसपास के लोगों को सर्वसुविधायुक्त चिकित्सा सेवा उपलब्ध कराने के लिए जेएसपीएल के चेयरमैन श्री नवीन जिन्दल का धन्यवाद किया। इस अवसर पर जेएसपीएल के चेयरमैन श्री नवीन जिन्दल ने कहा कि बाबूजी श्री ओपी जिन्दल के नाम से स्थापित यह अस्पताल जरूरतमंदों विशेषकर गरीबों की सेवा में समर्पित है। उन्होंने कहा कि दो साल में फोर्टिस ओपी जिन्दल अस्पताल का फेज-2 बनकर तैयार हो जाएगा और बेड की संख्या बढ़कर 155 हो जाएगी। उन्होंने मुख्यमंत्री का आभार जताते हुए कहा कि न सिर्फ स्वास्थ्य बल्कि शिक्षा, औद्योगीकरण के साथ-साथ अन्य क्षेत्रों में भी सरकार जो जिम्मेदारी लगाएगी, उसे वे बखूबी निभाएंगे।

जेएसपीएल फाउंडेशन की चेयरपर्सन श्रीमती शालू जिन्दल ने कहा कि फाउंडेशन रायगढ़ वासियों को विश्वस्तरीय स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध कराने के लिए संकल्पबध्द है। फोर्टिस ओपी जिन्दल अस्पताल का विस्तार हमारे इन संकल्पों की ही अभिव्यक्ति है। कोविड19 और विभिन्न बीमारियों के उपचार के लिए हम अत्याधुनिक गुणवत्तायुक्त स्वास्थ्य सेवाएं उपलब्ध कराने की ओर अग्रसर हैं। उन्होंने मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल के प्रति आभार व्यक्त करते हुए कहा कि उनके प्रोत्साहन से वे राष्ट्र निर्माण के प्रति सदैव समर्पित रहेंगे। जेएसपीएल, छत्तीसगढ़ के सीओओ श्री डीके सरावगी ने कहा कि हम स्वस्थ रहकर ही राष्ट्र सेवा में योगदान कर सकते हैं। फोर्टिस ओपी जिन्दल अस्पताल क्षेत्रवासियों की सेवा की एक मिसाल है।

फोर्टिस ओपी जिन्दल हॉस्पिटल के सीओओ डॉ. (मेजर) राजेश्वर भाटी ने कहा कि फेज-2 के निर्माण से हमारी स्वास्थ्य सेवा में कई नए आयाम जुड़ेंगे और नेफ्रोलॉजी, गैस्ट्रोएंटेरोलॉजी समेत अनेक सुविधाएं प्रदान करने में हम सक्षम होंगे जो रायगढ़ क्षेत्र में उपलब्ध नहीं है। चिकित्सा निदेशक डॉ. अजय गुप्ता ने कहा कि आइसोलेशन,डायलिसिस से संक्रमित मरीजों को विशेष लाभ मिलेगा। इस अवसर पर जेएसपीएल, रायपुर के प्रेसिडेंट प्रदीप टंडन, रायगढ़ के कलेक्टर श्री भीम सिंह, एसपी संतोष कुमार सिंह, सीएमएचओ डॉ. एसएन केसरी, एसडीएम युगल किशोर उर्वशा आदि भी उपस्थित थे।

फोर्टिस ओपी जिन्दल अस्पताल के बारे में

फोर्टिस ओपी जिन्दल अस्पताल रायगढ़ क्षेत्र का एकमात्र सर्वसुविधायुक्त सुपर स्पेशयलिटी हॉस्पिटल है, जहां अंतरराष्ट्रीय स्तर की चिकित्सा सुविधा, अत्याधुनिक उपकरण, अनुभवी चिकित्सकों, नर्सों एवं सहायकों की टीम सेवा समर्पित है।फोर्टिस ओपी जिन्दल अस्पताल में हृदय रोग, न्यूरो एवं स्पाइन रोग, हड्डी एवं जोड़ प्रत्यारोपण, नाक कान एवं गला रोग, स्त्री एवं प्रसूति रोग, बाल्य एवं शिशु रोग, छाती एवं फेफड़ा रोग, जनरल एवं लेप्रोस्कोपिक सर्जरी, फिजिशियन, नेत्र रोग, रेडियोलोजी, दंत रोग, मुख एवं जबड़ा रोग, फिजियोथेरेपी, पैथोलॉजी एवं आहार विशेषज्ञों की टीम मौजूद है। फोर्टिस ओपी जिन्दल अस्पताल में क्षेत्र का एकमात्र कैथलैब, 64 स्लाइड सीटी स्कैन, अत्याधुनिक उपकरणों से युक्त ऑपेरशन थियेटर, ब्लड एवं कंपोनेंट बैंक, एफरेसिस मशीन, पैथोलॉजी, आईसीयू एवं बर्न आईसीयू तथा डायलिसिस की सुविधाएं उपलब्ध है।

फोर्टिस ओपी जिन्दल अस्पताल को विश्वसनीय एवं उत्तम स्तर की चिकित्सा सुविधा के लिए इस वर्ष नाभ (एनएबीएच) द्वारा मान्यता प्रदान की गई है। फोर्टिस ओपी जिंदल हॉस्पिटल में राज्य सरकार द्वारा मान्यता प्राप्त स्वास्थ्य योजना, स्मार्टकार्ड, चिरायु योजना एवं अन्य सभी योजनाओं का लाभ मरीजों को दिया जा रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *