कलेक्टर श्री डेहरे एवं जिला सीईओ श्री लंगेह मैनपुर एवं देवभोग का किया दौरा : विकासखंड अधिकारियों की बैठक लेकर दिये निर्देश

सुपेबेड़ा के प्रत्येक घरों में नल से पानी पहुंचाने के निर्देश
सुपेबेड़ा के पटवारी निलंबित
गौठान व चबुतरा निर्माण का अवलोकन

गरियाबंद 30 जून 2020

कलेक्टर श्री छतर सिंह डेहरे एवं जिला पंचायत सीईओ श्री विनय लंगेह सोमवार को बारिश के बीच मैनपुर एवं देवभोग क्षेत्र के दौरे पर निकले। इस दौरान अधिकारियों ने विकासखंड स्तरीय अधिकारियों की बैठक लेकर जरूरी निर्देश दिये। मैनपुर के रेस्ट हाउस में अधिकारियों की बैठक में राजस्व पशुपालन, बिजली,कृषि, स्वास्थ्य, आदिम जाति विकास, महिला बाल विकास एवं अन्य विभागों की समीक्षा की। राजस्व विभाग अंतर्गत सभी लंबित भू-अर्जन की कार्यवाही समय-सीमा में करने के निर्देश दिये। कलेक्टर ने कहा कि किसानो को खाद बीज मिलना सुनिश्चित हो, तथा सभी डुप्लीकेट ऋण पुस्तिका निरस्त किया जाये। यह भी ध्यान रखा जाये कि एक से अधिक ऋण पुस्तिका एक ही किसान के पास न हो। धान खरीदी हेतु बनाये जा रहे चबुतरो को तीन के भीतर पूर्ण करने के निर्देश दिये है। गौठान क्षेत्र अंतर्गत अगर अतिक्रमण किया गया है तो एक सप्ताह के भीतर अतिक्रमण हटाने की कार्यवाही की जाये। वहीं गौठानों में पौधरोपण तथा रोका-छेका अंतर्गत मवेशियों को गौठान में ही रखा जाये। मैनपुर एवं देवभोग क्षेत्र में नियमित रूप से विद्युत आपूर्ति के लिए विद्युत लाईन के अंतर्गत आने वाले पेड़ो की पहचान कर कटाई-छटाई करें ताकि विद्युत अवरोध न हो सके। कलेक्टर ने छात्रावास ,मनरेगा, पुल-पुलियों की मरम्मत, बच्चों को पूरक पोषण आहार आदि के संबंध में निर्देश दिये है। बैठक में मैनपुर एसडीएम श्रीमती अंकिता सोम, जनपद सीईओ श्री नरसिंग ध्रुव एवं संबंधित विभाग के जिला अधिकारी मौजूद थे।
बैठक के पश्चात अधिकारियों द्वारा देवभोग अंतर्गत ग्राम सुपेबेड़ा का दौरा किया गया। ग्राम सुपेबेड़ा में कलेक्टर द्वारा हेण्डपंप एवं नल स्थल पर पानी जमाव और गन्दगी को देखकर नाराजगी जाहिर की गई। उन्होंने सरपंच एवं सचिव को तत्काल सफाई करने के निर्देश दिये। साथ ही आरईएस विभाग को वहां पर बॉउंड्रीवाल बनाने के निर्देश दिये। कलेक्टर ने शासकीय प्राथमिक एवं माध्यमिक परिसर में ग्रामीणो को शुद्ध एवं स्वच्छ जल उपलब्ध कराने के लिए स्थापित आर्सेनिक एवं आयरन रिमूवल प्लान्ट का अवलोकन किया। उन्होंने पानी सप्लाई की जानकारी ली। बताया गया कि गांव में कुल 06 फिल्टर प्लांट लगाया गया है तथा नलजल और स्थल जल योजना के तहत घरों में शुद्ध जल पहुंचाया जा रहा है। कलेक्टर ने गांव के प्रत्येक घरो में निःशुल्क पानी पहुंचाने के निर्देश पीएचई विभाग को दिये है। इस दौरान उन्हांेने झण्डातोलन के लिए बनाये गये चबुतरा को मरम्मत कराने के निर्देश दिये। इस दौरान मौके पर अनुपस्थित पटवारी श्री मनोज शांडिल्य को निलंबित कर दिया गया। इसके पूर्व ग्राम निष्टीगुड़ा में स्थापित सुपेबेड़ा के लिए पानी सप्लाई टेंक का अवलोकन किया व प्रक्रिया की जानकारी ली। उन्होंने निष्टीगुड़ा में गौठान का अवलोकन किया तथा रोका-छेका कार्यक्रम की जानकारी ली। ग्रामीणांे को अपने मवेशी गौठान में भेजने हेतु समझाईश दी गई। तत्पश्चात ग्राम झाखरपारा में धान खरीदी हेतु बनाये जा रहे 06 चबुतरा के धीमी निर्माण पर नाराजगी जाहिर किया गया। कलेक्टर ने संबंधित इंजीनियर को तीन दिन में कार्य पूर्ण करने के निर्देश दिये। इस दौरान अनुविभागीय अधिकारी श्री अनुपम आशीष टोप्पो,जनपद सीईओ श्री मण्डावी एवं जिला अधिकारी मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *