पीएम मोदी बोले भारत लोगों के स्वास्थ्य को ध्यान में रखकर वैश्विक महामारी के साथ लड़ रहा

पीएम मोदी ने कहा कि महामारी ने एक बार फिर दिखाया है कि भारत की दवा इंडस्ट्री सिर्फ भारत के लिए ही संपदा नहीं है बल्कि पूरी दुनिया के लिए भी है। भारत ने दवाईयों की लागत कम करने में अग्रणी भूमिका निभाई है, खासतौर से विकासशील देशों के लिए।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज इंडिया ग्लोबल वीक 2020 के उदघाटन पर भाषण में देते हुए कहा कि ‘आत्मनिर्भर भारत’ का मतलब स्वयं तक सीमित होना या दुनिया के लिए बंद हो जाना नहीं है। इसका मतलब ‘सेल्फ सस्टेनिंग’ और ‘सेल्फ जेनरेटिंग’ होना है। पीएम मोदी ने कहा कि महामारी ने एक बार फिर दिखाया है कि भारत की दवा इंडस्ट्री सिर्फ भारत के लिए ही संपदा नहीं है बल्कि पूरी दुनिया के लिए भी है। भारत ने दवाईयों की लागत कम करने में अग्रणी भूमिका निभाई है, खासतौर से विकासशील देशों के लिए। एक तरफ भारत लोगों के स्वास्थ्य को ध्यान में रखकर वैश्विक महामारी के साथ लड़ रहा है, दूसरी ओर हमारा इतना ही ध्यान देश की अर्थव्यवस्था के स्वास्थ्य पर भी है। आज हमारी कंपनियां कोविड-19 की दवाई बनाने और उसका उत्पादन करने के अंतर्राष्ट्रीय प्रयासों में सक्रिय हैं। मुझे यकीन है कि भारत दवाई बनाने में और बन जाने के बाद उसका उत्पादन बढ़ाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगा। बता दें कि भारत में एक बार फिर कोविड-19 के 25 हजार से ज्यादा मामले सामने आए हैं। कोविड 19 इंडिया डॉट ओआरजी के मुताबिक, भारत में आज कोरोना वायरस के 25 हजार 559 ममले सामने आये हैं। इसी के साथ भारत में कोविड 19 से संक्रमित मरीजों की संख्या 7 लाख 69 हजार 053 हो गयी है। इनमें 2, 71, 254 मरीज एक्टिव हैं। जबकि एक दिन में भारत में 19,509 मरीज ठीक हुए हैं। इसी के साथ देश में ठीक हुए मरीजों की संख्या 4,76,554 हो गयी है। वहीं भारत में एक दिन में कोरोना वायरस से 491 लोगों की मौत हुई है। इसी के देश में कोरोना वायरस से मरने वालों की संख्या 21,144 हो गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *