मानसून सत्र से पहले पाए गए 30 सांसद कोरोना पॉजिटिव

नई दिल्ली। मानसून सत्र की शुरुआत होने से पहले सभी सांसदों और लोकसभा तथा राज्यसभा के सचिवालय के कर्मचारियों की आवश्यक कोविड-19 की जांच की गई। सूत्रों ने बताया कि इन जांचों की रिपोर्ट के अनुसार करीब 30 सांसद और सचिवालयों के 50 से अधिक कर्मचारी कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। संक्रमित पाए गए सभी सांसदों और कर्मचारियों से संसद ना आने और पृथक वास में जाने के लिए कहा गया है। सोमवार से शुरू हुआ मानसून सत्र 1 अक्टूबर तक चलेगा। कोरोना महामारी को देखते हुए बैठकें दो पारियों में होंगी। राज्यसभा की बैठक सुबह और लोकसभा की बैठक दोपहर को होगी। इधर कोरोना महामारी के बीच हो रहे संसद के मानसून सत्र के पहले दिन राज्यसभा में संसदीय कार्य मंत्री प्रहलाद जोशी ने मानसून सत्र के दौरान प्रश्नकाल और गैर सरकारी कामकाज को नहीं लाने का प्रस्ताव रखा। तृणमूल कांग्रेस के डेरेक ओ ब्रायन ने इस प्रस्ताव पर एक संशोधन प्रस्ताव रखते हुए कहा कि यह संसदीय लोकतंत्र का ह्रदय है।इसमें विपक्षी सदस्यों को सरकार से प्रश्न पूछने का अवसर प्राप्त होता है।