राजनांदगांव : पेंशन प्रकरणों के निराकरण की स्थिति से कलेक्टर असंतुष्ट

पत्र जारी कर जल्द से जल्द निराकरण करने  दिए निर्देश

राजनांदगांव 15 मई 2019

कलेक्टर श्री जयप्रकाश मौर्य ने सेवानिवृŸा शासकीय कर्मचारियों के न्यायालयीन प्रकरणों को छोड़कर शेष पेंशन प्रकरणों का जल्द से जल्द निराकरण करने के निर्देश संबंधित विभाग के अधिकारियों को दिए हैं। श्री मौर्य ने इसके लिए सभी विभाग प्रमुखों को पत्र जारी कर सर्वाेच्च प्राथमिकता देते हुए लंबित पेंशन प्रकरणों का निराकरण करने कहा है।  श्री मौर्य ने पत्र मे यह भी कहा कि वे स्वयं हर माह दो बार सभी विभागों के पेंशन प्रकरणों की समीक्षा करेंगे। किसी भी विभाग प्रमुख द्वारा सेवा निवृŸा कर्मचारियों के पेंशन प्रकरण एवं देय अन्य स्वत्व भुगतान के संबंध में लापरवाही पाए जाने पर उनके विरूद्ध अनुशासनात्मक कार्रवाई की जाएगी।

पत्र में यह भी कहा गया कि पिछले दिनों पेंशन प्रकरणों के निराकरण की समीक्षा की गई। समीक्षा के दौरान यह पाया गया कि न्यायालयीन प्रकरणों को छोड़कर शेष प्रकरण निराकरण योग्य है, जिनमें विभागों को तत्परता दिखाने की जरूरत थी। परन्तु यह खेद का विषय है कि विगत तीन-चार माह से अनेक विभागों में विभाग प्रमुख स्तर पर पेंशन प्रकरण लंबित हैं। छŸाीसगढ़ पेंशन नियम के अनुसार किसी भी कर्मचारी के सेवा निवृŸा दिनांक से 24 माह पहले उसके पेंशन प्रकरण बनाने की शुरूआत हो जानी चाहिए। सेवावधि के अंतिम तीन माह में पेंशन प्रकरण पूर्ण कर साफ्ट कापी एवं हार्ड कापी संयुक्त संचालक कोष, लेखा एवं पेंशन को भेज दी जानी चाहिए, ताकि समय पर उस कर्मचारी के समस्त दायित्वों का भुगतान किया जा सके। अनेक कार्यालयों द्वारा समय पर कार्य पूर्ण न करने से पेंशन दायित्वों का समय पर भुगतान नहीं हो पाता। निर्माण विभागों में कार्यरत कार्यभारित एवं आकस्मिकता के कर्मचारियों के संबंध में पेंशन प्रकरण के निराकरण के लिए तत्काल कार्रवाई सुनिश्चित करें। जिला कोषालय द्वारा अगले दो साल में सेवा निवृŸा होने वाले कर्मचारियों को चिन्हिंत कर लिया गया है। विभागों द्वारा इसका मिलान भी किया जा चुका है। इन कर्मचारियों के पेंशन प्रकरण एवं अन्य देय स्वत्व के लिए कार्रवाई सुनिश्चित की जाए। अगले तीन माह में सेवा निवृŸा होने वाले कर्मचारियों की पेंशन पोर्टल ‘आभार’ के माध्यम से ऑनलाईन एन्ट्री कर साफ्ट कापी एवं हार्ड कापी संभागीय संयुक्त संचालक कोष, लेखा एवं पेंशन दुर्ग को भेजा जाना सुनिश्चित करें। इस संबंध में किसी भी प्रकार की समस्या होने पर जिला कोषालय अधिकारी से संपर्क किया जा सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *